Best Rahat Indori Shayari

Best Of Rahat Indori Shayari – An Ultimate Collection

Best Of Rahat Indori Shayari – One of the most respected shayar and some of his best Hindi Shayari for you all.

Janab Rahat Indori Shayari ki duniya ka wo jagmagata sitara hai, jo apni Shayari sey puri duniya mein roshni deta hai. Na sirf India mein balki her mulk mein Dr Rahat Indori key beshumaar fans hain.

Aaj hum Rahat Indori Sahab key kuchh She’r aur kuchh gazleyn lekar aapkey saamney aayen hain. Agar aapko, Dr Rahat Indori Sahab ki ye shayari pasand aaye toh, share karna na bhuleyn.

Best Of Rahat Indori Shayari

Best Of Rahat Indori Shayari

जुबाँ तो खोल, नज़र तो मिला,जवाब तो दे
में कितनी बार लुटा हूँ , मुझे हिसाब तो दे

तेरे बदन की लिखावट में हैं उतार चढाव
में तुझको कैसे पढूंगा, मुझे किताब तो दे

Zubaan to khol, nazar to mila, jawaab to de,
Mai kitni baar luta hoon mujhe hisaab to de,
Tere badan ki likhawat mai hai utaar chadaav,
Mai tujhe kaise padhunga mujhe kitaab to de.                                                                  

Best Shayari of Janab Rahat Indori

राहत इंदौरी शायरी  हिंदी में 

राहत इंदौरी शायरी  हिंदी में 

एक एक हर्फ़ का अंदाज़ बदल रखा है,
आज से मैंने तेरा नाम ग़ज़ल रखा है,

मैंने शाहो की मोहब्बत का भरम तोड़ दिया,
मेरे कमरे मे भी एक ताजमहल रखा है

Ek ek harf ka andaaz badal rakha hai,
Aaj se humne tera naam ghazal rakha hai,
Maine shaho ki mohabbat ka bharam tod dia,
Mere kamre mai bhi ek tajmahal rakha hai

टॉप राहत इंदौरी शायरी 

नयी हवाओं की सोहबत बिगाड़ देती हैं
कबूतरों को खुली छत बिगाड़ देती हैं

जो जुर्म करते है इतने बुरे नहीं होते
सज़ा न देके अदालत बिगाड़ देती हैं

Nayi hawaaon ki sohbat bigaad deti hai,
Kabtooro ko khuli chat bigaad deti hai,
Aur jo jurm karte hain itne bure nahi hote,
Saza na deke adaalat bigaad deti hai.

बेस्ट राहत इंदौरी शायरी 

Rahat Indori Poetry In Hindi – 

राहत इन्दोरी  Shayari

राहत इन्दोरी  Shayari

बन के इक हादसा बाज़ार में आ जाएगा,
जो नहीं होगा वो अखबार में आ जाएगा,

चोर उचक्कों की करो कद्र, कि मालूम नहीं,
कौन, कब, कौन सी सरकार में आ जाएगा

Ban ke ik hadasa bazaar me aa jayega,
Jo nahi hoga wo akhbaar me aa jayega,
Chor uchkkon ki karo kadr, ki maloom nahi,
Kaun, kab, kon si sarkaar me aa jayega

राहत इंदौरी शायरी हिंदी में 

तेरी हर बात मोहब्बत मे गवारा करके,
दिल के बाज़ार मे बैठे हैं ख़सारा करके,

मुन्तज़िर हूँ के सितारों की ज़रा आँख लगे,
चाँद को छत पे बुला लूंगा इशारा करके

Teri har baat mohabbat mai gawara karke,
Dil ke bazaar mai baithe hai khasaara karke,
Muntazir hoon ke sitaaro ki zara aankh lage,
Chaand ko chat pe bula lunga ishara karke.

राहत इन्दोरी की हिंदी शायरी

राहत इन्दोरी की हिंदी शायरी    
                                                                            

नए सफ़र का नया इंतज़ाम कह देंगे
हवा को धूप, चरागों को शाम कह देंगे

किसी से हाथ भी छुप कर मिलाइए
वरना इसे भी मौलवी साहब हराम कह देंगे

कश्ती तेरा नसीब चमकदार कर दिया
इस पार के थपेड़ों ने उस पार कर दिया
अफवाह थी की मेरी तबियत ख़राब हैं
लोगो ने पूछ पूछ के बीमार कर दिया                                                                                    

Rahat Indori Shayari With Image

सूरज,सितारे,चाँद,मेरे साथ में रहे
जब तक तुम्हारा हाथ मेरे हाथ में रहे

शाखों से टूट जाएँ वो पत्ते नहीं हैं हम
आँधी से कोई कह दो, कि औकात में रहे

Suraj, sitaare, chaand mere saath me rahe,
Jab tak tumhare haath mere haath me rahe,
Shaakhon se toot jaaye wo patte nahi hain hum,
Aandhi se koi kah de ki aukaat me rahe..

शायरी  राहत इंदौरी in Hindi

जवान आँखों के जुगनू चमक रहे होंगे
अब अपने गाँव में अमरुद पक रहे होंगे

भुलादे मुझको मगर, मेरी उंगलियों के निशान
तेरे बदन पे अभी तक चमक रहे होंगे

Jawaan aankhon mein juganoo chamak rahe honge
Ab apane gaanw mein amarood pak rahe honge
Bhula de mujhako magar, meree ungaliyon ke nishaan
Teree badan par abhee tak chamak rahe honge

Best Rahat Indori Shayari

Best Rahat Indori Shayari

आँख में पानी रखो होंटों पे चिंगारी रखो,
ज़िंदा रहना है तो तरकीबें बहुत सारी रखो,

एक ही नदी के हैं ये दो किनारे दोस्तो,
दोस्ताना ज़िंदगी से मौत से यारी रखो

Aankhon Mein Pani Rakho Hontho Pe Chingari Rakho,
Zinda Rahna Hai Toh Tarkeebein Bahut Saari Rakho,
Ek Hi Nadi Ke Hain Yeh Do Kinare Dosto,
Dostana Zindagi Se Maut Se Yaari Rakho.

Best Shayari Rahat Indori Sahab Ki

Rahat Indori Sahab ney beshumaar shayari kahin hai. Janab,Rahat Sahab ki un sab shayari ko ak jagah samet key nahi rakhaa ja sakta. Rahat Indori Sahab ki shayari mein rooh ka ahsas hota hai. 

Pesh Hain Rahat Indori Sahab ki kuchh aur Shayari –

Please Share if you like the Shayari of Rahat Sahab

घर से यह सोचकर निकला हूं कि मर जाना है
अब कोई राह दिखा दे कि किधर जाना है

जिस्म से साथ निभाने की मत उम्मीद रखो
इस मुसाफिर को तो रास्ते में ठहर जाना है

Ghar se ye soch ke nikla huun ki mar jaana hai
Ab koi raah dikha de ki kidhar jaana hai
Jism se saath nibhane ki mat ummid rakho
Is musafir ko to raste men thahar jaana hai

राहत इंदौरी शायरी In English Font

रोज़ तारों को नुमाइश में खलल पड़ता हैं
चाँद पागल हैं अन्धेरें में निकल पड़ता है

उसकी याद आई हैं सांसों, जरा धीरे चलो
धडकनों से भी इबादत में खलल पड़ता हैं

Rahat Indori Poetry – Rahat Indori Shayari In Hindi

Roz taaron ko numaish mein khalal padata hai
Chaand paagal hai andhere mein nikal paata hai
Uskee yaad aaee hai saanso jara dheere chalo
Dhadakanon se bhee ibaadat mein khalal padata hai

Janab Rahat Indori Shayari In Hindi

Some More From His Pen

सरहदों पर बहोत तनाव है क्या
कुछ पता तो करो चुनाव है क्या

जंग है तो जंग का मंज़र भी होना चाहिए
सिर्फ नेज़े हाथ में हैं सर भी होना चाहिए

Rahat Indori Romantic Shayari – Hindi Shayari Ki Naaz

Jawaaniyon mein javaanee ko dhool karate hain
Jo log bhool nahin karate, bhool karate hain
Agar anaarakalee hai sabab bagaavat ka
Saleem ham teree sharten kubool karate hain

Top Rahat Indori Shayari

Top Rahat Indori Shayari

जवानिओं में जवानी को धुल करते हैं
जो लोग भूल नहीं करते, भूल करते 

अगर अनारकली हैं सबब बगावत का
सलीम हम तेरी शर्ते कबूल करते हैं

Latest Attitude Shayari For Boys

Dr. Rahat Indori Shayari , His Shayari are the most powerful Hindi Shayari, one will ever come across. Dr. Rahat Indori is not only a Poet but also a great human being.

फैसला जो कुछ भी हो, हमें मंजूर होना चाहिए
जंग हो या इश्क हो, भरपूर होना चाहिए

भूलना भी हैं, जरुरी याद रखने के लिए
पास रहना है, तो थोड़ा दूर होना चाहिए

I hope you are liking Hindi Shayari of Rahat Indori Sahab. Don’t forget to Bookmark us.

हाथ ख़ाली हैं तेरे शहर से जाते जाते,
जान होती तो मेरी जान लुटाते जाते,

अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है,
उम्र गुज़री है तेरे शहर में आते जाते

Loo bhi chalatee thee to baadey shaba kahate thhe
Paaon failaye andheron ko diya kahate thhe
Unaka anjaam tujhe yaad nahin hai shaayad
Aur bhee log thhe jo khud ko khuda kahate thhe

लू भी चलती थी तो बादे-शबा कहते थे,
पांव फैलाये अंधेरो को दिया कहते थे,

उनका अंजाम तुझे याद नही है शायद,
और भी लोग थे जो खुद को खुदा कहते थे

Best Rahat Indori Shayari In Hindi

सफ़र की हद है वहां तक की कुछ निशान रहे
चले चलो की जहाँ तक ये आसमान 

ये क्या उठाये कदम और आ गयी मंजिल
मज़ा तो तब है के पैरों में कुछ थकान रहे

Safar kee had hai wahaan tak ki kuchh nishaan rahey
Chale chalo ki jahaan tak yah aasamaan rahey
Ye kya uthae kadam aur aa gayi manzil
Mazaa to tab hai ki pairon mein kuchh thakaan rahey

Rahat Indori Best Shayari For You

मेरी आंखों में कैद थी बारिश,
तुम ना आए तो हो गई बारिश।
आसमानों में ठहर गया सूरज,
नदियों में ठहर गई बारिश।

Rahat Indori Shayari हिंदी में

फूंक डालुंगा मैं किसी रोज दिल की दुनिया
ये तेरा खत तो नहीं है जो जला ना सकूं

तूफ़ानों से आँख मिलाओ, सैलाबों पर वार करो
मल्लाहों का चक्कर छोड़ो, तैर के दरिया पार करो

Rahat Indori Shayari In Hindi Fonts

अजनबी ख़्वाहिशें सीने में दबा भी न सकूँ,
ऐसे ज़िद्दी हैं परिंदे कि उड़ा भी न सकूँ,
फूँक डालूँगा किसी रोज़ मैं दिल की दुनिया,
ये तेरा ख़त तो नहीं है कि जला भी न सकूँ

Top Rahat Indori Romantic Shayari

हाथ ख़ाली हैं तेरे शहर से जाते जाते,
जान होती तो मेरी जान लुटाते जाते,
अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है,
उम्र गुज़री है तेरे शहर में आते जाते।

जुबां तो खोल, नजर तो मिला, जवाब तो दे
मैं कितनी बार लुटा हूँ, हिसाब तो दे

राहत इंदौरी की Hindi शायरी 

मुझसे पहले वो किसी और की थी, मगर कुछ शायराना चाहिये था,
चलो माना ये छोटी बात है, पर तुम्हें सब कुछ बताना चाहिये था

कहीं अकेले में मिल कर झिंझोड़ दूँगा उसे
जहाँ जहाँ से वो टूटा है जोड़ दूँगा उस

Keep Visiting Us For More. Apna Khyal Rakhna Mat Bhooliyega.

Thank You For Your Visit and Time

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *